एक लाइफ इंश्योरेंस फीचर जो आपके नॉमिनी के जीवन में बड़ा अंतर ला सकता है

8

क्या इनकम फीचर से लाइफ इंश्योरेंस में कोई फर्क पड़ता है? क्या आपने कभी गंभीरता से सोचने के बाद अपनी जीवन बीमा पॉलिसी में इस फीचर का चयन किया है? अगर नहीं, तो आज हम आपको बताएंगे कि इसे चुनना क्यों जरूरी है...

हम आपको इस लाइफ इंश्योरेंस फीचर के बारे में एक उदाहरण देकर समझाने की कोशिश करेंगे। जिसमें हम दो बचपन की सहेलियों की लाइफ को लेकर बात करेंगे कि कैसे वह सिंगल मदर होने के बावजूद अपने घर और बच्चों का ध्यान रख रहीं हैं।

सबसे पहले बता दें इन दोनों फ्रेंड्स के जीवन में बहुत सी चीजें सामान्य हैं। जैसे कि दोनों पेशेवर हैं और उनके दोनों पति आर्थिक रूप से बुद्धिमान हैं। दोनों पति-पत्नी के पास पूरे परिवार के लिए जीवन और स्वास्थ्य बीमा भी है। दोनों ही परिवार अपने परिवार के फाइनेनशियल गोल्स और आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए नियमित रूप से निवेश भी कर रहे हैं। साथ ही आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए स्पष्ट निर्देशों के साथ दोनों परिवारों की विस्तृत आकस्मिक योजनाएं भी हैं। हालांकि, इस परफेक्ट फाइनेंनशियल लाइफ फ्रेम में एक अंतर है।

दरअसल, मांडवी और उनके पति ने अपने टर्म इंश्योरेंस से एकमुश्त रकम के साथ मासिक आय भुगतान लाभ चुना है। जबकि फरहत ने खुद एक निवेश प्रबंधक होने के नाते, एकमुश्त भुगतान विकल्प के साथ जाना चुना है।

नामांकन कितना महत्वपूर्ण है?

दोनों परिवारों के प्रीमियम के बीच का अंतर संबंधित जीवन कवर के लिए भुगतान कर रहा है, शायद ही अपनी बचत पर डेंट लगा रहा है। लेकिन यह बाद में बदल सकता है।

अब कल्पना कीजिए कि दोनों परिवारों के जीवन में कुछ ऐसा घटित हो गया है जिसके कारण दोनों को अपने जीवन बीमा लेने के लिए मांग करनी पड़ गई है।

मांग करने के बाद मांडवी को अपनी कुल राशि 1 करोड़ रु. में से 75 लाख रु. की राशि एकमुश्त मिल गई है। बाकी की बची रकम अब उसे हर महीने 25,000 रु. के रूप में मिला करेगी। वहीं अब बात करें फरहत की तो उसे अपने बीमा के एक साथ 1 करोड़ रु. मिल गए हैं।

पैसा क्लेम करने के बाद क्या हुआ?

अगर अभी भी आपको इस बात का पता नहीं लग पाया है कि पैसा क्लेम करने के बाद दोनों फैमिली के बीच क्या बदलाव आएगा, तो आइए आगे हम आपको इस बारे में विस्तार से बताते हैं।

जनरेट इनकम

घर के मुखिया की मौत के बाद, परिवार को इस बात पर ध्यान देना होगा कि अब घर को आर्थिक रूप से कैसे सुरक्षित रखा जा सके। ऐसा तभी मुमकिन है जब परिवार बारे अपने लिए निवेश और पैसा कमाना शुरु कर दें, ताकि उन्हें भविष्य में कोई परेशानी का सामना न करना पड़े।

लेकिन बता दें मांडवी को अपनी इनकम को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि उनके जीवन बीमा पॉलिसी के कारण उनके परिवार को हर महीने इनकम मिलती रहेगी। उनको केवल सोचा इस बात को लेकर है कि उन्हें एक साथ मिली 75 लाख रुपये की राशी को कहां इन्वेस्ट करना है।

हालांकि, फरहत को इस बात को लेकर सोचने की जरूरत है कि क्लेम की गई 1 करोड़ की राशि को कैसे इस्तेमाल किया जाए। जिससे उनका वर्तमान भी ठीक से चले और भविष्य में भी किसी तरह की परेशानी न आ पाए।

भविष्य के लिए निवेश

भविष्य के लिए दोनों ही परिवारों को अपनी क्लेम की गई राशि में से मुख्य अंश को निवेश करना होगा। ताकि उनका और उनके परिवार को आगे जा कर कोई आर्थिक रूप से दिक्कतों का सामना न करना पड़े। हालांकि जैसे कि हम जानते ही है कि मानवी को पहले से ही हर महीने इनकम मिला करेगी, जिसके कारण वह आराम से समय लगा कर इंवेस्टमेंट प्लान चुन सकती है। बात करें फरहत की तो वह लगभग हर लॉग-टर्म की संपत्ति में निवेश कर सकती है, या ज्यादातर पैसे सुरक्षित साधनों में रख सकती है। 

टर्म इंश्योरेंस में मासिक आय विकल्प

इस मामले में, हमारे पास फरहत है जो खुद एक निवेश पेशेवर है और शायद वह घरेलू निवेश, खर्च, बच्चों और एक नौकरी का प्रबंधन करने में सक्षम हो जाएगी। हालांकि, इस स्थिति में अगर कोई और होता तो उनके लिए इन हालातों से डील करना काफी मुश्किल होता।

आपको बता दें ऐसी कई टर्म इंश्योरेंस है जिसमें हर महीने इनकम देने की पॉलिसी हैं, जैसे कि  Metlife, ICICI Prudential Life and Max. इन प्लान को लेने के लिए आपको उस समय सब्सक्राइब करना होगा जब आप पॉलिसी खरीद रहे होंगे। क्योंकि इन फिचर को आप पहले से चल रही पॉलिसी में दाखिल नहीं करवा सकते हैं।  

मासिक आय भुगतान के वेरिएंट

बता दें मासिक आय या नियमित आय भुगतान मोड दो टाइप में उपलब्ध है:

1. फिक्स्ड मंथली इनकम

पेमेंट की शर्तों के अनुसार हर महीने एक फिक्स्ड राशि देना निश्चित रहता है। पेआउट का कार्यकाल कम से कम 10 साल या बीमा किए हुए व्यक्ति का 60 वां जन्मदिन हो सकता है।

2. बढ़ती आय

इस ऑप्शन में आपकी इनकम में कुछ परसेंट के हिसाब से वृद्धि होती रहेगी। जैसे कि, पहले साल में नॉमिनी को 10 हजार रुपये मिलेंगे और इसके बाद 11 हजार पेमेंट की जाया करेगी। साथ ही आपको बता दें रकम तब तक बढ़ती रहेगी जब तक पेआउट पीरियड खत्म नहीं हो जाता।

अंत में हम आपको यह बताना चाहते है कि लाइफ इंश्योरेंस यानी जीवन बीमा हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। क्योंकि इससे आप और अपना परिवार जीवन को आसानी से जी सकता है। क्योंकि जब आप परिवार के साथ नहीं होंगे तब लाइफ इंश्योरेंस आपके परिवार का ध्यान रखेगा और आपके चुके गए प्लान के हिसाब से परिवार को सहायता करेगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.